Home SUPPLEMENT endura mass review in hindi

endura mass review in hindi

12
0
SHARE
endura mass review in hindi,
endura mass review

 हमसबजानतेहैंकिआजकल १ फिट बॉडी होना बहुत मुश्किल है आपको उसके लिए कुछ एक्स्ट्रा मेहनत करने पड़ते हैं तब जाकर आपको फिट बॉडी मिलती है |

बहुत लोग अंडर वेट ना होने के कारण जूझ रहे हैं बहुत सारे diets लेने के बाद भी  अच्छी डाइट लेने के बाद भी उनके बॉडी में कोई बदलाव नहीं आता तो वह जिम का सहारा लेते हैं सप्लीमेंट का सहारा लेते हैं | तो इसी तरह के सप्लीमेंट है एंडोरा मास गेनर (endura mass) आज हम इस टॉपिक में बात करेंगे |


 एंदुरा मास गेनर लगभग हर दूसरा आदमी जानता हैयहकंपनी1996  में शुरू हुई थी  जिसने हेल्थ  संबंधित बनाने शुरू किए थे  तब से आज तक यह कंपनी अपने प्रोडक्ट को मार्केट में बेच रही है | और इसके रिजल्ट और दाम  को देखते हुए  कई लोग इसका इस्तेमाल भी करते हैं ज्यादातर शाकाहारी लोग जिनको वजन बढ़ाना होता है वह इसका इस्तेमाल करते हैं क्योंकि कुछ लोगों को लगता है कि जो प्रोडक्ट मार्केट में नए आए हैं उनके बहुत ज्यादा साइड इफेक्ट होते हैं और इसकी वजह से वह लोग इनका इस्तेमाल करने से भी डरते हैं |
 लेकिन बिना किसी शक के एंदुरा मास  अच्छा रिजल्ट देता है हमारी बॉडी ग्रो हेल्थी डाइट प्रॉपर रेस्ट और एक्सरसाइज पर निर्धारित करती हैं जब हम अपनी डाइट से सही गैलरी नहीं ले पाते हैं तो इस प्रोडक्ट के सहारे हम अपना वजन बढ़ाने की कोशिश करते हैं |
यह आर्टिकल भी पढ़े –

कीमत (endura mass price) :

 इस प्रोडक्ट की कीमत हम लोग भी इसको खरीद सकते हैं क्योंकि यह की कीमत 500 के अंदर होती हैं और इसमें अलगअलग तरह के फ्लेवर भी आते हैं |

वजन कैसेबढ़ाता है:


 जब हम अपने बॉडी के लिए एक जरूरी कैलरीज़ से ज्यादा कैलरीज लेते हैं तब हमारा बॉडी वेट बढ़ने लगता है तो आइए हम इसके  फायदे और नुकसान जानते हैं |

लेने कातरीका :


आप कोई भी कोई भी वजन बढ़ाने वाला प्रोडक्ट लेते हैं या फिर कोई और प्रोडक्ट लेते हैं उसको लेने से पहले आपको यह पता होना चाहिए की, उसको लिया कैसे जाएं क्योंकि अगर आप सही ढंग से उसका इस्तेमाल नहीं करते हैं तो उसका साइड इफेक्ट नहीं होता जितना उसका होना चाहिए इसी वजह से कुछ लोग सोचते हैं कि यह प्रोडक्ट बिल्कुल भी काम नहीं करता है|
 इसको शुरू में आप दिन में दो बार से शुरू करना है  आप इसको ब्रेकफास्ट और रात के खाने  के बाद दूध में दो केले डालकर और इंडोरा मांस के 3 चम्मच डालकर ले  जब आपका वजन ठीकठाक बढ़ जाए तो आप इस को दिन में तीन बार लेना शुरू कर दें |
 दिन में कम से कमबार  जरूर ले  यह एक फूड सप्लीमेंट है |

 एंडोरामास खानेके फायदे (endura mass benefits):


अगरआपइंदुरामासकारेगुलरइस्तेमालकरतेहैंतोयहआपकेबॉडीकेस्टेमिनाकोबढ़ादेताहै  जिससे कि आप कोई भी काम करते समय थकेंगे नहीं इस प्रोडक्ट में ऐसा नुकसान देने वाला कोई भी केमिकल  या स्टेरॉयड  या फिर कोई दवा का इस्तेमाल नहीं  किया जाता है |
 जो कि आपके बॉडी फंक्शन को बढ़ा देता है और नेचुरल आपका वजन बढ़ाने में मदद करता है एंडोरा मास इस्तेमाल करने का सबसे बड़ा फायदा  इसके ऑर्गेनिक प्रोटीन का इस्तेमाल करने का है |
 इस प्रोडक्ट में सोया प्रोटीन का इस्तेमाल किया जाता है जो किसी दूसरे प्रोटीन पाउडर की प्रोसेस से बहुत दूर है | यह प्रोडक्ट 100%   शाकाहारीहोताहै  जो कि सबसे बड़ा फायदा है उन लोगों  के लिए जो लोग  मांस नहीं खाते है 
endura mass review in hindi,
endura mass nutrition label
इसप्रोडक्टमेंकमसेकम  शुगर का इस्तेमाल किया जाता है | जो की हेल्थ के लिए सबसे बढ़िया होता है  क्योंकि  शुगर एक जहर का काम करता है  जब आप इस प्रोडक्ट का इस्तेमाल करते हैं तो रोज ली जाने वाली  कैलोरीज बढ़ जाती हैं  और जिसकी वजह से  आपको सारा दिन एनर्जी से भरा हुआ लगता है और आप  सुस्त और आलसी महसूस नहीं करते हैं |
 इसमें मौजूद विटामिन मिनरल हमारे बॉडी के शारीरिक रूप को अच्छा बनाने के साथसाथ हमारे मेंटल हेल्थ को सुधारता है |

 एंडोरामास खानेके नुकसान (endura mass side effect):

  • इसप्रॉब्लमकोज्यादाइस्तेमालकरनेसेसेक्ससंबंधीसमस्यासकतीहैक्योंकिइसमेंसोयाप्रोटीनकाइस्तेमालकियाजाताहैजिसकाप्रयोगलंबेसमयतकइस्तेमालकरनेसेशरीरमेंएस्ट्रोजन(महिलाओंमें  पाए जाने वाले हार्मोन) की मात्रा बढ़ जाती है जिसकी वजह से शीघ्रपतन, सेक्स इच्छा में कमी जैसी समस्या सामने आती हैं |

  • अगर इसका इस्तेमाल लंबे समय तक किया जाता है तो हार्मोन इंबैलेंस की समस्या पैदा हो सकती हैं इसमें आपको उतावलापन, महिलाओं में बाल आना, मूड बदलना, तनाव  जैसी दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है |

  •  जब भी कोई फ्रूट खाते हैं तो ग्लाइसेमिक इंडेक्स हमारे शरीर में ब्लड शुगर को बढ़ाता है  इस प्रोडक्ट को इस्तेमाल करने के बाद यह नोटिस किया गया है की, इसकी वजह से ग्लाइसेमिक इंडेक्स बड़ा हाई लेवल पर चला जाता है जो कि  एक बुरी खबर है |

  • जब हम ज्यादा ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाले कार्बोहाइड्रेट खाते हैं तो हमारे शरीर में जरूरत से ज्यादा फैट बढ़ने लगता है इसी वजह से इस प्रोडक्ट का लंबे समय तक इस्तेमाल करना  नहीं चाहिए |

  • जो लोग मधुमेह के शिकार हैं उनको इसका इस्तेमाल नहीं करना चाहिए क्योंकि इसके ग्लाइसेमिक इंडेक्स बहुत ही ज्यादा होता है | जिसकी वजह से ब्लड शुगर लेवल बहुत ही ज्यादा हो जाता है |

  • अगर आप एक्सरसाइज नहीं करते हैं तो इसका इस्तेमाल  ना हीं करें क्योंकि, इसमें मौजूद है  हाय कैलरी को आप डाइजेस्ट नहीं कर पाते हैं उसका पाचन नहीं कर पाते हैं तो इसका डायरेक्ट fat के रूप में  बढ़ जाता है |

SHARE
Previous articleBiotin in hindi
Next articlehow to lose weight by yoga in hindi
My name is Jit, I has been Working in Fitness industry for over 5 years, And has Helped Thousands improve their Health, Fitness And overall Well-Being.My Best Quoted:" A journey of a thousand miles begins with a single step "

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here